सागर से भी गहरा बन्दे गुरु देव का प्यार है

सागर से भी गहरा बन्दे गुरु देव का प्यार है,
देख लगाकर गोता एक बार तेरा बेडा पार है।।

भाव सागार में एक दिन तेरी जीवन नैया डूबेगी,
खेते खेते एक दिन तो पतवार भी तेरी टूटेगी,
जायेगा उस पार तू कैसे चारो तरफ अंधकार है,
सागर से भी गहरा बन्दे गुरु देव का प्यार है।।

सौप दे नैया गुरु देव को वोही पार लगादेंगे,
पैर पकड़ ले गुरु देव के सोया भाग्य जगदंगे,
पापी से भी पापी को भी करते न इंकार है ,
सागर से भी गहरा बन्दे गुरु देव का प्यार है।।

संत समागम हरी कथा भी गुरु किरपा से पाओगे ,
खुद आएंगे श्याम प्रभु अगर गुरु की ठोकर खाओगे ,
बनवारी बिन गुरु कृपा के बिन जीना भी बेकार है ,
सागर से भी गहरा बन्दे गुरु देव का प्यार है।।

सागर से भी गहरा बन्दे गुरु देव का प्यार है
देख लगाकर गोता एक बार तेरा बेडा पार है।।

Leave a Reply