सुंदरकाण्ड का पाठ करो मन इच्छा फल पा लो

सुंदरकाण्ड का पाठ करो मन इच्छा फल पा लो
बाबा प्रसन हो जाये राम नाम गुण गा लो
आया बाबा का मंगलवार आया
आया बाबा का शनिवार आया ।।

मंगलवार को भक्त बाबा के मेहंदीपुर को जाते
दर्शन करके प्यारे बाबा के मन बांचित फल पाते।।

राम राम जय राम राम जय जय जय राम राम
अर्जी लगा कर बाबा को दिल का हाल सुनाते।।

बाबा जाने सबके मन की सबकी आस पुगाते
आया बाबा का मंगलवार आया
आया बाबा का शनिवार आया।।

भाव के भूखे है बजरंगी रिधि शिधि के दाता
श्रद्धा भाव से जो कोई भी दर बाबा के आता।।

राम राम जय राम राम जय जय जय राम राम
चरणों में हनुमात के आके श्रधा सुमन चड़ता।।

तन मन हो जाये रोशन उसका सोये भाग जगता
आया बाबा का मंगलवार आया।।

मंगल मूरत दर से तेरे भक्त मुरदे पाते
विद्या वान गुनी अती चातुर भगतो के मन बाहते।।

राम राम जय राम राम जय जय जय राम राम
राम दूत अतुल्लित बलधामा तुलसी दास है गाते।।

शंकर सुवन केसरी नंदन राम नाम गुण गाते
आया बाबा का मंगलवार आया।।

मेहंदीपुर में बाबा ने सुंदर दरबार सजाया
प्रेत राज और भरव जी का सुंदर दर्शन पाया।।

राम राम जय राम राम जय जय जय राम राम
रणजीत राजा ने बाबा तेरा सुंदर भजन गया।।

आशा पूरण हो गई मन की सवा मणि ले आया
आया बाबा का मंगलवार आया।।

Leave a Reply