सुनो सिया मेरी बात राम फुलवरिया आए हैं लिरिक्स

सुनो सिया मेरी बात राम फुलवरिया आए हैं
राम फुलवरिया आए हैं जनक की फुलवरिया आए हैं

कौन बरन है कौन भेष है काहे के तिलक लगाए हैं
श्याम वर्ण है कुंवर भेष है केसर के तिलक लगाए हैं

कौन देश से कौन वंश से कौन के राज दुलारे हैं
अवध देश से सूर्यवंश से दशरथ के राज दुलारे हैं

कौन कू मारे कौन उद्दारे कौन को यज्ञ कराए हैं
ताड़का मारे अहिल्या उद्गारे विश्वामित्र के यज्ञ कराए हैं

कौन के प्यारे नयन दुलारे कौन के मन ये भाए है
कौशल्या के प्यारे नयन दुलारे सिया के मन ये भाए है

suno siya meree baat raam phulavariya aae hain
raam phulavariya aae hain janak kee phulavariya aae hain

kaun baran hai kaun bhesh hai kaahe ke tilak lagae hain
shyaam varn hai kunvar bhesh hai kesar ke tilak lagae hain

kaun desh se kaun vansh se kaun ke raaj dulaare hain
avadh desh se sooryavansh se dasharath ke raaj dulaare hain

kaun koo maare kaun uddaare kaun ko yagy karae hain
taadaka maare ahilya udgaare vishvaamitr ke yagy karae hain

kaun ke pyaare nayan dulaare kaun ke man ye bhae hai
kaushalya ke pyaare nayan dulaare siya ke man ye bhae hai

Leave a Reply