सोहनी ममता दी ठंडी ठंडी छा मिल गई

सोहनी ममता दी ठंडी ठंडी छा मिल गी
साहणु जदों दी डाट काली माँ मिल गई।।

देहरादून विच लाये मैया जी ने डेरे ने
खुशियाँ ते चा वंडे चार चुफेरे ने
चंगे होंन गे कर्म खरे ता मिल गी
साहणु जदों दी डाट काली माँ मिल गई।।

कदे न भुलाए कदे दिलो भी न भूलिए
दुनिया दे उते मेरी माँ अन्मुली एह,
जिहदा मूल न जग तो परा मिल गई
साहणु जदों दी डाट काली माँ मिल गई।।

उची नीवी था तो जिहने सदा है सम्बालेया,
शुकर मनावा ओह्दा रिंकू ढनडा वालेया
कमान नु चरना च था मिलगी
साहणु जदों दी डाट काली माँ मिल गई।।

Sohani Mamta Di Thandi Thandi Chha Mil Gayi
Sahanu Jadon Di Daat Kali Maa Mil Gai

Deharadun Vich Laye Maiya Ji Ne Dere Ne
Khushiyan Te Cha Vande Char Chuphere Ne
Change Honn Ge Karm Khare Ta Mil Gayi
Sahanu Jadon Di Daat Kali Maa Mil Gai

Kade Na Bhulae Kade Dilo Bhi Na Bhulie
Duniya De Utte Meri Man Anmuli Eh
Jihada Mul Na Jag To Para Mil Gayi
Sahanu Jadon Di Daat Kali Maa Mil Gai

Uchi Nivi Tha To Jihane Sada Hai Sambaleya
Shukar Manava Ohda Rinku Dhanada Valeya
Kaman Nu Charana Ch Tha Mil Gai
Sahanu Jadon Di Daat Kali Maa Mil Gayi

This Post Has One Comment

Leave a Reply