हनुमत जैसा वीर बलवान हमने आज तक देखा ना

हनुमत जैसा वीर बलवान,
हमने आज तक देखा ना,
डर से उनके संकट कापे,
डर से उनके संकट कापे,
कोई आगे टिक ना पाया।।

जो उनकी करता है भक्ति,
मुश्किल को वो आसान करदे,
प्यार कभी काम होव ना,
डर से उनके संकट कापे,
डर से उनके संकट कापे,
कोई आगे टिक ना पाया।।

कोई वीर कहे कोई बाला,
कोई हनुमत कोई रखवाला,
आओ मिल सब मंगल गाओ,
कोई बच पाए ना,
डर से उनके संकट कापे,
डर से उनके संकट कापे,
कोई आगे टिक ना पाया।।

हनुमत जैसा वीर बलवान,
हमने आज तक देखा ना,
डर से उनके संकट कापे,
डर से उनके संकट कापे,
कोई आगे टिक ना पाया।।

Leave a Reply