हरे राम हरे रामा जपते थे हनुमाना

हरे राम हरे रामा जपते थे हनुमाना,
इस मंत्र कि महिमा को सारे जग ने जाना।।

इस मंत्र से हार गया रावण सा बलशाली,
इस मंत्र से तुलसी ने रामायण लिख डाली।

हरे राम हरें रामा जपते थे हनुमाना,
इस मंत्र कि महिमा को सारे जग ने जाना।।

जब केवट ने मुख से इस मंत्र के बोल पढ़े,
त्रिलोकपति आकर केवट की नाव चढ़े।

हरे राम हरें रामा जपते थे हनुमाना,
इस मंत्र कि महिमा को सारे जग ने जाना।।

इस मंत्र की महिमा को भिलनी ने जान लिया
रघुवर खुद घर आए कितना सम्मान किया।

हरे राम हरें रामा जपते थे हनुमाना,
इस मंत्र कि महिमा को सारे जग ने जाना।।

इस मंत्र से हनुमत ने सागर को पार किया,
उस कपटी रावण की लंका को उजाड़ दिया।

हरे राम हरें रामा जपते थे हनुमाना,
इस मंत्र कि महिमा को सारे जग ने जाना।।

हरे राम हरें रामा जपते थे हनुमाना,
इस मंत्र कि महिमा को सारे जग ने जाना।।

हरे राम हरे रामा जपते थे हनुमाना,
इस मंत्र कि महिमा को सारे जग ने जाना।।

Hare Ram Hare Rama Japte The Hanumana
Iss Mantra Ki Mahima Ko Saare Jag Ne Jaana

Hare Ram Hare Rama Japte The Hanumana
Iss Mantra Ki Mahima Ko Saare Jag Ne Jaana

Iss Mantra Se Haar Gaya Rawan Saa Balshali
Iss Mantra Se Tulsi Ne Ramayan Likh Dali

Hare Ram Ram Hare Rama
Hare Ram Hare Rama Japte The Hanumana
Iss Mantra Ki Mahima Ko Saare Jag Ne Jaana

Jab Kewat Ne Mukh Se
Iss Mantra Ke Bol Pade

Banwari Khud Raghuwar
Khud Raghuvar Kewat Ki Naav Chade

Hare Ram Hare Rama Japte The Hanumana
Iss Mantra Ki Mahima Ko Saare Jag Ne Jaana

Leave a Reply