हुई कृपा है मुझपे माँ तेरा दीदार पाया है

हुई कृपा है मुझपे माँ तेरा दीदार पाया है
करू मैं शुक्रिया तेरा जो चरणों से लगाया है

था दुनिया में अकेला माँ दिया जब आसरा तूने
कोई न पूछता था माँ गली माँ अपने घर झूले

है साथ अब मेरे मेरी माँ तेरा साया है
करू मैं शुक्रिया तेरा जो चरणों से लगाया है

बड़े ही ठाठ है उसके माँ जिस के घर में आती है
है रिश्ते जग के सब झूठे है सची मेरी दाती है

है विश्वाश जिसने माँ का जगराता कराया है
करू मैं शुक्रिया तेरा जो चरणों से लगाया है

हुई कृपा है मुझपे माँ तेरा दीदार पाया है
करू मैं शुक्रिया तेरा जो चरणों से लगाया है

Leave a Reply