aajo sare nachiye karishna de naal ji

आजो सारे नचिये कृष्णा दे नाल जी,
नच नच राधा भी करदी कमाल जी,
आजो सारे नचिये कृष्णा दे नाल जी,

बरह्मा विष्णु फूल वरसावे देवकी नंदन मुरली भजावे,
नच नच के पये करदे कमाल जी,
आजो सारे नाचिये कृष्णा दे नाल जी,

नटखट दी महिमा न जाने संसार है,
चोरी चोरी माखन चुराया नन्द लाल है,
नच नच सखियाँ भी करे दे निहाल जी,
आजो सारे नाचिये कृष्णा दे नाल जी,

नच दे भंडारी होके मस्त मलंग जी,
लेहरी अशोक नु भी चढ़ाया है रंग जी,
मीठा मीठा बोल दा विच सूरी ताल जी,
आजो सारे नाचिये कृष्णा दे नाल जी,

Leave a Reply