aawegi sheravali maari jaa aawaja maari jaa

आवेगी भावना वाली मारी जा अवाजा मारी जा,
आवेगी शेरावाली मारी जा आवाजा मारी जा,
पलका नु बना ले पोकर तू रस्ते नु भुखारी जा,
आवेगी शेरावाली मारी जा आवाजा मारी जा,

सुन अरजा दौड़ी आवे माँ कम नहीं कोई देरी दा,
रात बरात दी फ़िक्र करे ना चीजका मीह हनेरी दा,
जिह्ना चरना तो चल औना ओहना चरना तो बलिहारी जा,
आवेगी शेरावाली मारी जा आवाजा मारी जा,

जाने अनजाने होइया जो भुला बक्शोनो भूली न,
लोब दा जंगल कंडेया दा बन मंगता भटकी रुली न,
मंगनी है नाम दी दौलत बाकि सब नु विसारी जा,
आवेगी शेरावाली मारी जा आवाजा मारी जा,

जे मन खोटा नीयत खोटी सच्ची सरकार ने औना नि,
ये स्वार्थ नाल भुलावे गा माता ने फेरा पाउना नहीं,
कुज लेना सरल कवलेया दर ते डिगी इक वारि जा,
आवेगी शेरावाली मारी जा आवाजा मारी जा,

Leave a Reply