aaye ne mere bhole nath bail ute hoke swaar ji

आये ने मेरे भोले नाथ बैल उते होके सवार जी,
गोरा मैया नु लेके साथ बैल उते होके सवार जी,

हार नागा दा पाके आये जटा धारी,
पूजे है उसनु दुनिया है सारी,
सबदे दे सिरा ते रखे हाथ
बैल उते होके सवार जी,…….

तीन लोक दा मालिक है प्यारा सारे ही जग दा बनिया सहारा,
ओहदे बिन दुनिया अनाथ बैल उते होके सवार जी,

पूत पुत्र देवे नाल कारोबार जी,
सब ले लाहोरी ओहदे खुले भण्डार जी,
देखे न कोई घर वार,
बैल उते होके सवार जी………

Leave a Reply