baba shyam ki haweli ye hai badi albeli

बाबा श्याम की हवेली ये है बड़ी अलबेली,
बड़े सूंदर नजारे लगते है प्यारे प्यारे,
इस में सजधज बैठा मेरा यार सांवरिया,
सोहना सोहना बड़ा सोहना मेरा यार सांवरिया,

तेरी आँखों का काजल हमे करता है घ्याल,
तेरा देख के शृंगार दिल हो जाता है पागल,
तेरी अँखियो से झलके बड़ा प्यार सांवरिया,
सोहना सोहना बड़ा सोहना मेरा यार सांवरिया,

तेरे घुंगर वाले बाल तेरे मोटे मोटे गाल,
तेरे होठो में मुरलियाँ तेरी तिर्शी सी चाल,
तेरी बांकी सी अदाये दिलदार सांवरियां,
सोहना सोहना बड़ा सोहना मेरा यार सांवरिया,

तेरी चितवन बांकी बांकी तेरी मनमोहनी है झांकी,
जो भी देखो तुझको कान्हा वो हो जाये दीवाना,
हंस नजर उतारे बार बार सांवरिया,
सोहना सोहना बड़ा सोहना मेरा यार सांवरिया,

Leave a Reply