badi nirali shan bhole ki

बड़ी निराली शान मेरे भोले की
बड़ी निराली पहचान मेरे भोले की

तन पे भोले बस्म लगाये
गल में माला सर्प सजाये
बड़ी निराली शान बोले की…..

जटा में गंगा देखो विराजे
माथे चंदा देखो साजे
बड़ी निराली शान बोले की

डम डम डमरू देखो बाजे
भूतो के संग में भोले नाचे
बड़ी निराली शान बोले की

Leave a Reply