barsane aaja pyare dhoom machi hai aaja sakhi sanware di naal nachiye

बरसाने आजा प्यारे धूम मची है,
आजा सखी सँवारे दे नाल नचिये,
हो आज नहीं जे नचना ते फेर कदो नचना,
बरसाने आजा प्यारे धूम मची है,

बरसाने दी उची अटारी,
जिथे आनदी दुनिया सारी,
मेरी आँख सँवारे दे नाल लड़ी है,
आजा सखी सँवारे दे नाल नचिये,

सोहना मेरा बांके बिहारी,
वेख सोहने न दिल गई हारी,
मेरे बांके बिहारी मैं दिल गई हारी,
तेरे नाम दी महंगी मेरे हाथ रची है,
आजा सखी सँवारे दे नाल नचिये,

ढोल वजावा भंगड़े पावा,
नच नच मह ता मस्त हो ज्वा,
ला ली सोने नाल प्रीत सच्ची है,
आजा सखी सँवारे दे नाल नचिये,

Leave a Reply