bhole ka lag raha se mela ye dhaam bda se anbela

भोले का लग रहा से मेला,
ये धाम बड़ा से अलबेला,

चल गोरी कावड़ लावे गे शिव गोरा को साथ मनावे गे,
भोले की ज्योत जगावे गे बाबा के दर्शन पावे गे,
थोड़ी जल्दी उठा ले तू थैले यो धाम बड़ा से अलबेला,
भोले का लग रहा से मेला,
ये धाम बड़ा से अलबेला,

हम मल मल गंगा न्हावे गे काया को शुद्धि बनावे गे,
गऊ मुख पे शीश झुकावे गे हम शिव के दर्शन पावे गे,
यहाँ लग रहा भगतो का रेला यो धाम बड़ा से अलबेला,
भोले का लग रहा से मेला,
ये धाम बड़ा से अलबेला,

शिवलिंग पे दूध चादावे गे और मन वंचित फल पावेंगे.
भोले ने दुखड़ा सुनावे गे हम नील कंठ पे जावे गे,
भर भर के आवे से थेला यो धाम बड़ा से अलबेला,
भोले का लग रहा से मेला,
ये धाम बड़ा से अलबेला,

वह सचिन खटाना आवे गे मनसा चंडी के भी जावे गे,
भोले के भजन बनावे गे हम मिल जल के सब गावे गे,
केशव गावे शिवानी की गेला यो धाम बड़ा से अलबेला,
भोले का लग रहा से मेला,
ये धाम बड़ा से अलबेला,

Leave a Reply