bm bm bm bhole bnda

पहले कावड़ उठा ले माथे तिलक लगा ले,
आये भोले की नगरियां तू चली पंडाल,
बम बम बम बोल बंदा,

सोहन महीने में धूम मचाये शिव शम्भू को खूब मनाये,
भोले को मना कर तू बोल बंदा,
बम बम बम बोल बंदा,

शिव शमभू है दीं दयाला पीते संग भांग का प्याला,
भंग के नशे में तू डोल बंदा,
बम बम बम बोल बंदा,

हर की पौड़ी हम सब जाए कावड़ ला कर भोले को नेहलाये,
भोले को नेहला कर तू बोल बंदा,
बम बम बम बोल बंदा,

बोले के चरणों में शीश झुकाये दास सुनील तेरो गुण गये.
तानसेन के म्यूजिक पे नाच बंदा,
बम बम बम बोल बंदा,

This Post Has One Comment

Leave a Reply