dil ke beech maiya ji ko vsa lijiye

दिल के बीच मैया जी को वसा लीजिये,
मैया शेरोवाली को मना लीजिये,
दिल के बीच मैया जी को बसा लीजिये

सुखी चाहो जिन्दगी तो माँ के दर आइये,
माँ के दर आके सिर चरनो में झुकाइये ,
सचे दरबार को सजा लीजिये,
मैया शेरोवाली को मना लीजिये,

मैया मैया रटते रटते धयाणु भी तर गया ,
घोड़े का शीश जोड़ा अमर नाम कर गया,
लगन महरा वाली की लगा लीजिये,
मैया शेरोवाली को मना लीजिये,

आस तेरी करके मैया दर तेरे आया ,
पान फूल मेवा मिश्री कुछ भी न लाया,
सोया माँ नसीब मेरा जगा लीजिये,
मैया शेरोवाली को मना लीजिये,

Leave a Reply