gaura ji de laal nu

हर कम तो ही पहला तू ते भगता,
गोरा जी दे लाल नु ध्याई जा,
लै आ श्रधा विश्वाश हर कम आऊ रास,
एहदे चरना च ध्यान लगाई जा,
हर कम तो ही पहला तू ते भगता,
गोरा जी दे लाल नु ध्याई जा,

गोरा माँ दा लाडला एह शम्भू जी दा लाल ऐ,
आवे जो भी दर करे पुरे एह सवाल ऐ,
सिर मुकट कमाल हथ कमल फूल लाल,
सोहनी मूरत नु मन च वसई जा,
हर कम तो ही पहला ते भगता,
गोरा जी दे लाल नु ध्याई जा,

रिधि सीधी दासी एहदी सूत सुभ लाभ ऐ,
काज करावे पूरण एह्दा प्रभाव ऐ
आवो रख विस्वाश हर कम औ रास,
तू ते भावना दी भेट चडाई का,
हर कम तो ही पहला ते भगता,
गोरा जी दे लाल नु ध्याई जा,

भावना ते भगता दी हुँदै ने दयाल एह,
कर देंदे सेवका नु फिर मालामाल ऐ,
साफ़ शोंकी मन कर शीश चरना च थर,
काज अपना नु सफल बनाई जा,
हर कम तो ही पहला ते भगता,
गोरा जी दे लाल नु ध्याई जा,

Leave a Reply