he ganpati deen dyaal

जी ज्वाला माँ सरसवती,
मेरे हिरदे वसो हमेश,
भूले अखर कंठ कर,
माँ गोरी पुत्र गणेश,

हे गणपति दीन दयाल,
हे शिव गोरा दे लाल,
पहला तेरी करा मैं पूजा,
लै लडुआ दा थाल,
हे गणपति दीन दयाल,
तेरी जय हॉवे तेरी जय हॉवे गोरी लाल,

चन्दन दा है तिलक लगाया,
सिर सोने दा मुकट सजाया,
नूरी मुखड़ा चमका मारे,
ते घुंगराले वाल,
हे गणपति दीन दयाल,….

भरी सबा विच लाज बचावे,
खुशिया ही खुशियाँ दे जावे,
तेरा मंत्र जो भी पड़दा,
हो जाए मालामाल,
हे गणपति दीन दयाल,………..

सब दे कारज पुरे करदा,
तू क्लेर दी झोली भरदे,
राजू बी हरिपुरियां कहंदा,
रख चरना दे नाल,
हे गणपति दीन दयाल……

Leave a Reply