hume bhi do maiyan ek chota sa laal

दर पे आई एक दुखयारी हे माँ विनती सुनो हमारी,
तेरे बिना माँ कौन सुनेगा मेरे दिल का हाल,
हमे भी देदे माँ एक छोटा सा लाल,

सारी दुनिया ताने मारे बंजन कह के मुझे पुकारे,
रो रो नैना राह निहारे हाल हुआ बेहाल,
हमे भी दो मइयां एक छोटा सा लाल.

माँ बेटे का निर्मल नाता हे जगजनी भाग्ये बिधाता,
पुत्र रत्न देके माता कर दे माला माल,
हमे भी दो मइयां एक छोटा सा लाल.

लाल मेरे जब अंगना डोले तुतला कर वो माँ माँ बोले,
पकड़ के ऊँगली होले होले निरखु उसकी तान,
हमे भी दो मइयां एक छोटा सा लाल.

सारे जग की तू ही रचियाँ माँ को बेटा दे भें को भइयाँ,
बेटे का वर देकर मइयां पुरे करो सवाल,
हमे भी दो मइयां एक छोटा सा लाल.

ईशा पूरी करदो मइयां तेरे हवाले जीवन नइयाँ,
भीम साइन संग दर पे मइयां आउगी हर साल,
हमे भी दो मइयां एक छोटा सा लाल.

This Post Has One Comment

  1. Pingback: hume bhi do maiyan ek chota sa laal – tineb.org

Leave a Reply