is jeewan ko tumne sanwara ehsaan mujhpe tera hai

इस जीवन को तुमने संवारा
एहसान मुझपे तेरा है

मेरा साया बनकर मेरे साथ हमेशा चलता है
तेरी किरपा से बाबा परिवार मेरा ये पलता है
तेरा मेरा रिश्ता देखो लगता ये काफी गहरा है

वो दिन कैसे भूलों सब मेरी हंसी उड़ाया करते थे
ताना दे देकर सांवरिया मुझे रुलाया करते थे
पर जबसे तू मुझको मिला है
खुशियों का घर में पहरा है

तेरे एहसानो को बाबा भूल कभी ना पाउँगा
शिवम् इतने क़र्ज़ हैं तेरे कैसे बोल चुकाऊंगा
गर्व से कहता हूँ दुनिया को
शीश के दानी तू मेरा है

Leave a Reply