jai ho bajrang bali bhakton ko taar do

दुखों को दूर करो खुशियां न्योच्छार दो
जय हो बजरंगबली भक्तों को तार दो ल

मां अंजनी के लाल पवनसुत चाल पवन की आ जाओ
आन पड़ा हूं दर पे तुम्हारे बिगड़ी मेरी बना जाओ।
हमने सुना है तुमने दुखियों को तारा
मुझको भी दे जाओ सहारा
मेरे जीवन की बगिया तेरी भक्ति से गुलज़ार हो। जय हो.

राम नाम के रसिया हो तुम राम की सेवा करते हो
राम नाम का ध्यान धरे जो उसकी झोली भरते हो
आन पड़ा हूं दर पे तुम्हारे
छूट गए मेरे सारे सहारे
गाता रहूं महिमा में तेरी बस इतना सरकार दो। जय हो..

कृष्ण भजन
Bhajan

Leave a Reply