jai jai jai mahakal bam

जय जय जय महाकाल बम,
कालो के भी काल हो तुम,
भगतो को करते हो निहाल,
महाकाल बम जय जय महाकाल बम,

बसम आरती जो कोई लेवे अकाल मौत न उसकी हॉवे,
जो भी आये शरण तुम्हारी काटे उसके सब जंजाल,
महाकाल बम जय जय महाकाल बम,

शिव शंकर तुम हो अवनाशी जपो निरंतर कटे अफ़ासी,
भोले नाथ है डमरू वाले हिरदये तुम्हारा है विशाल,
महाकाल बम जय जय महाकाल बम,

पारवती करे तुम्हारी सेवा तुम तो हो देवो के देवा,
घट घट वासी हो कैलाशी गले में है सर्पो की माल,
महाकाल बम जय जय महाकाल बम,

उज्जैन के तुम हो राजा भगत भाज्ये ढोल और बाजा.
नील कंठ केदार नाथ हो नरेश भोले तेरा लाल,
महाकाल बम जय जय महाकाल बम,

शिव भजन

This Post Has One Comment

  1. Pingback: dwar maiya ke roj tum jate raho – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply