jhoomo nacho gaao saare khushiya manaao ghadi phir na milegi

झूमो नाचो गाओ सारे खुशिया मनाओ ये घडी फिर न मिले गी,
दूर खड़े तुम न सोचो शर्म छोड़ो आके नाचो तेरे भिग्न दूर माँ करे गी,
आरे बोलो बोलो बोलो रे जय दुर्गा माँ,

चार दिनों की है ज़िंदगी कुछ पल तो बाते साथ बिता ले,
यहाँ वहा क्यों बंदे भटके रे माँ को तू अपने मन में फसा ले,
दिल से बोलो जय कारे होंगे तेरे वारे न्यारे,
ये घडी फिर न मिले गी,
दूर खड़े तुम न सोचो शर्म छोड़ो आके नाचो तेरे भिग्न दूर माँ करे गी,
आरे बोलो बोलो बोलो रे जय दुर्गा माँ,

करे जो नवरात्रो में आराधना उसकी पूर्ण हो हर कामना,
किरपा बरस रही माँ की चहु और,
आई है तेरी बारी मुँह न खोल,
मस्ती में झूम ले तू भक्ति में नाच ले तू आत्मा अजीत किसने की,
दूर खड़े तुम न सोचो शर्म छोड़ो आके नाचो तेरे भिग्न दूर माँ करे गी,
आरे बोलो बोलो बोलो रे जय दुर्गा माँ,

Leave a Reply