jhula pe jhule pyaari rani radhika ji

झूला पे झूले प्यारी रानी राधिका जी,
ए जी सखियाँ गावत हां जी सखियाँ गावत,
कीत मन हार,
झूला पे झूले प्यारी रानी राधिका जी,

नन्ही नन्ही बुँदियाँ देखो चरण लग रही जी,
एह जी मैं हां बरसात मुसल धार,
झूला पे झूले प्यारी रानी राधिका जी,

पटुली पकड़ के जुटा दे रहे जी,
ए जी हा झूले गे हा जी हा झुलु गे कृष्ण मुरार,
झूला पे झूले प्यारी रानी राधिका जी,

पीहू पीहू पपीहा वैरी कर रहियो जी,
एही जी हां भाजे पायल झंकार,
झूला पे झूले प्यारी रानी राधिका जी,

कारे कारे बदला बहना मेरे हीर रहे जी,
एजी हां छापर हां जी हां चापार मृग में बहारा,
झूला पे झूले प्यारी रानी राधिका जी,

This Post Has One Comment

Leave a Reply