jihne baba ji de darshan paa le ohna de dukh muk gaye

जिह्नने बाबा जी दे दर्शन पा ले,
ओहना दे दुःख मूक गये,
जेहड़े बाबा जी दे टूर गये चालें,
ओहना दे दुःख मूक गये,

मेरे बाबा जी कला न्यारी है,
ताहियो आखदे भगत कला कारी है,
मेरे बाबा जी दी शक्ति न्यारी है,
ताहियो आखदे भगत कला कारी है,
सब भगता दे जोगी रखवाले,
ओहना दे दुःख मूक गये,

जदो चेत वाला चाला चढ़ आउंदा,
संग बाबे दी गुफा वाल जाउँदा,
जिहने मुख तो जयकारे ओहदे ला ले,
ओहना दे दुःख मूक गये,

ओहदे जाये जागे सूती तकदीर जी,
ऐसी लेखा च विच मार दा लकीर जी,
बाली शिंदे ने भी गुण ओहदे गा ले,
ओहना दे दुःख मूक गये,

Leave a Reply