kache dhaage ki tutegi gaath jog sanwariyan paaki gaanth baandh le

कच्चे धागे की टूटे गी गठ जोड़ सांवरियां पक्की गांठ बाँध ले,
माँ सा चाकरियो मिले न कोई और तू या भी महारी बात मान ले,

कच्ची डोरी तो बाबा जी बिन चटकाये चटके,
एक हवा को जोको आवै डोर हाथ से झटके,
टूटी डोरी तो जावे गी किते और,
सांवरियां पक्की गांठ बाँध ले….

दिल पर ठेस लगावे बाबा यो दुनिया का धंदो,
बिना मौत ही मर जाउगा मैं अन्धनों सो बंदो,
थारे बिन सूजे न अब तो कोई थोर थोड़ो सो मोहरो ध्यान राख ले,
कच्चे धागे की टूटे गी गठ जोड़ सांवरियां पक्की गांठ बाँध ले

टूट गिरे डाली से गुल्मो जो पत्झग आवे,
कच्चो रिश्तो तो जालिम दुनिया में टिक ना पावे,
छायो है अँध्यारो ओह बाबा गणगौर तू आके माहरो हाथो थाम ले,
कच्चे धागे की टूटे गी गठ जोड़ सांवरियां पक्की गांठ बाँध ले

Leave a Reply