kanaha ki deewani bn jaungi mastani ban jaungi

कान्हा की दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी
दीवानी बन जाउंगी श्याम मस्तानी बन जाउंगी
कान्हा माखन तुझे खिलाऊ आजा बरसाने

कान्हा गाये चराए तो मैं ग्वालन बन जाऊ
चोरी चोरी चुपके चुपके गाये चराऊ
मैं उसकी ग्वालन बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी

कान्हा माखन खावे तो मैं मिश्री बन जाऊ,
मुझको जी में जब जब तो मैं रग रग रम जाऊ मैं उसकी रसीली बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी

कान्हा मुरली बजावे तो मैं सांसे बन जाऊ
अधरों निशे केशव शर्मा तेरे बस जाऊ
तेरी शरण में आकर कान्हा मैं मस्तानी बन जाउंगी
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी

Leave a Reply