karlo ji karlo dedaar chintapurni da

फुला नाल सजेया दरबार चिंतपूर्णी दा,
मेला बड़ा भरे हर साल चिंतपूर्णी दा,
जय माता दी सब नु भुला के भगतो,
करलो जी करलो दीदार चिंतपूर्णी दा,

माये तेरे दर उते खाली कोई न मुडेया,
मैं भी कई जन्मा तो चरना च जुड्या,
चरना नाल लग मिले प्यार चिंतपूर्णी दा,
जय माता दी सब नु भुला के भगतो,
करलो जी करलो दीदार चिंतपूर्णी दा,

तेरे जेया होर न कोई माये साहनु भन्दा है,
वखरा नजारा तेरे दर उते आउंदा है,
जपदे रहना बस नाम चिंतपूर्णी दा,
जय माता दी सब नु भुला के भगतो,
करलो जी करलो दीदार चिंतपूर्णी दा,

हर साल तेरे दरबार आउंदे रहिये माँ,
खुले आके तेरे ही दीदार पौंदे रहिये माँ,
सनी शाह ने लाड लाया लाल चिंतपूर्णी दा,
जय माता दी सब नु भुला के भगतो,
करलो जी करलो दीदार चिंतपूर्णी दा,

This Post Has One Comment

  1. Pingback: mor mukat bansi vala mera yaar hai mere man ka sanwariya sarkaar hai – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply