khushiya sab ko lutata ja

खुशियां सबको लुटाता जा
घट घट में है साईं मोरा
सबको प्यार देता जा
खुशियां सबको लुटाता जा
चार दिनों की ज़िन्दगी

सुख दुःख में तू यूं बन जाना
साईं साईं रटते जाना
सुख दुःख में तू यूं बन जाना
साईं साईं रटते जाना
साईं बेडा पार करेंगे
मन को धीर बंधाता जा
खुशियां सबको लुटाता जा
चार दिनों की ज़िन्दगी

ये दुनिया है रैन बसेरा
क्यों करता है मेरा मेरा
ये दुनिया है रैन बसेरा
क्यों करता है मेरा मेरा

यहां की दौलत यहीं रहेगी
दया धर्म से रहता जा
खुशियां सबको लुटाता जा
चार दिनों की ज़िन्दगी

ना बैर किसी से करना है
हम सब भाई भाई है
ना बैर किसी से करना है
हम सब भाई भाई है
साईं के सब रूप जानकर
श्रद्धा भक्ति बढ़ाता जा
खुशियां सबको लुटाता जा
चार दिनों की ज़िन्दगी में
खुशियाँ सबको लुटाता जा
घटघट में है साईं मोरा

सबको प्यार देता जा
खुशियां सबको लुटाता जा
चार दिनों की ज़िन्दगी

Leave a Reply