laaya pind baajare ka bhole aa ke bhog laga le

सबका लौटा निर्मल जल से प्रेम पूर्वक न्हाले,
लाया पिंड बाजरे का भोले आ के भोग लगा ले,

तू भी भोला मैं भी भोला जात सु हरयाने का,
अपना हाथा तने जिमाऊ पहले न खाने का,
इंतज़ार तेरे आने का शिव मुझको अपना ले,
लाया पिंड बाजरे का भोले आ के भोग लगा ले,

कब तक रूठो गे भोले छोडू तुजे मना के,
बड़े भाव से लाया सुबह परशाद बना के ,
कृष्ण जी की तरहा आके साग विधुर घर खा ले,
लाया पिंड बाजरे का भोले आ के भोग लगा ले,

बम बम भोले बम बम भोले मैं हु तेरा दीवाना,
केशु म्यूजिक में संध्या को आके ज्ञान बताना,
युगुवंशी महावीर पिलाना भक्ति रस के प्याले,
लाया पिंड बाजरे का भोले आ के भोग लगा ले,

Leave a Reply