laya laya bhagta ne baba ji da dhuna

भजदे ने ढोल संग गुफा वल तुर पए,
गुण गाउंदे चरण गंगा ते जाके रुक गए
नाम दी खुमारी नशा नाम वाला दूना
लाया लाया भगता ने बाबा जी दा धुना

चडेया ऐ चेत मेला बाबा जी दा आया है
सारे भगता नु जोगी दर ते बुलाया है
अज गुफा वाले दा दर्शन होना
लाया लाया भगता ने बाबा जी दा धुना

पौनाहारी बाबा रेट विच मेख मार दा,
अपने प्यारियां नु जोगी मेरा तार दा,
एहदे जेहा नही कोई जग ते होना
लाया लाया भगता ने बाबा जी दा धुना

पौन रूप विच जदों पौन्हारी आउंदा है
सुते होए नसीबा नु एह पला विच ज्गाउन्दा है
पिंके ने भी गुण सदा गौना
लाया लाया भगता ने बाबा जी दा धुना

बाबा बालक नाथ भजन

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply