main jag daati de larh lagi haa mere to gm bhare rehnde

मैं जग दाती दे लड लगी हां मेरे तो गम भरे रेह्न्दे,
मेरी आसा उमीदा दे सदा बूटे हरे रेह्न्दे,

कदे भी लोड नहीं पेंदी मैनु दर दर तो मंगने दी,
मैं जग दाती दी मंगती है मैं तेरे दरबार दी मंगति हां,
मेरे पल्ले भरे रेह्न्दे ,मैं जग दाती दे लड लगी हां,

द्वारे लखा दुनिया ते तेरा दरबार है सोहना,
जेहड़े तेरे दर दे हो जांदे,
ओ ज़िंदगी विच खरे रेह्न्दे,
मैं जग दाती दे लड लगी हां

यहाँ विच होर ना मेरा,
मैनु बस तेरा सहारा है,
जेहड़े तेरे दर ते झुक जंडे
ओ दुभदे न तरे रेह्न्दे,
मैं जग दाती दे लड लगी हां

दुआवा रल करो सखियों मेरी किते माई न रूस जावे,
जिह्ना दी माँ है रूस जन्दी,
ओ जुनदे जी मरे रेह्न्दे,
मैं जग दाती दे लड लगी हां

दुर्गा भजन

This Post Has One Comment

  1. Pingback: mere khatu vale ki mahima badi nirali – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply