main laadla gufa vale da

जह्नु कहन्दे पौणाहारी है ज़िद्दी मोर दी सवारी है,
मैं लाडला गुफा ओ वाले दा मैं लाडला ओ धुनें वाले दा,

ढोलगिरि दा पर्वत है ज़िद्दी दयोटगुफा विच डेरा है,
जिथे देवी देवता भी आके ओहदे घर दे कॉल वसेरा है,
उस सुनहरी जटा वाले दा सोहनी गुफा वाले दा,
मैं लाडला गुफा ओ वाले दा मैं लाडला ओ धुनें वाले दा,

जदो चेत महीना आंदा है एहदे दर ते मेले लगदे ने ,
आउंदे दुरो दुरो भगत प्यारे आके सजदे करदे ने,
एह जोगी दुखड़े हर दा है सब दिया झोलियाँ भरदा है,
मैं लाडला गुफा ओ वाले दा मैं लाडला ओ धुनें वाले दा,

एहनु पौणाहारी कहन्दे ने जो मोर सवारी करदा है ,
एहनु दूधाधारी कहन्दे ने दूध पूत न झोलियाँ भरदा है,
पिंका भी एहदा पुजारी है मेरी किस्मत एहने सवारी है ,
मैं लाडला गुफा ओ वाले दा मैं लाडला ओ धुनें वाले दा,

Leave a Reply