mainu pata hunda aaj mere shyam ne aana main ta panghat te jaake beh jaandi

मैनु पता हुन्दा आज मेरे श्याम ने आना,
मैं ता पनघट ते जाके बह जांदी,
अपने दिल दी सारीया गल्ला,
अपने मोहन नु जाके कह आउंदी,

मेरा सोहना सलोना है सावरिया,
मनमोहनी बजानदा है बंसुरिया,
मैं भी खूब नज़ारा ले आउंदी,
अपने मोहन……..

मनमोहना है रूप कन्हैया दा,
ओह कहना ना मन दा है मैया दा,
नंदबाबा नु जाके कह आउंदी,
अपने मोहन…….

दिल विच कान्हा दी सूरत समायी है,
ओह समझे मैनु परायी है,
गल्ला करके मैं उसनु मना आउंदी,
अपने मोहन……

Leave a Reply