mathura ghumade krishan kanahiya

मन्नै मथुरा मैं घुमादे ओ ओ कृष्ण कन्हिया
मेरै न्यू मेरै न्यू मेरै न्यू मन मैं घणी आवै ओ ओ कृष्ण कन्हैया

मां यशोदा से मिलवादे ओ ओ कृष्ण कन्हैया
मेरै न्यू मन मै घणी आवै ओ ओ….

अपणी सखियां सै मिलादे ओ ओ कृष्ण कन्हैया
मेरै न्यू मन मैं घणी आवै ओ ओ कृष्ण कन्हैया

माखन मटकी का चखादे ओ ओ कृष्ण कन्हैया
मेरै न्यू………..

भजन सुनीता का सुनादे ओ ओ कृष्ण कन्हैया
लिख्या रवि का सुनादे ओ ओ कृष्ण कन्हैया

Leave a Reply