mera to ye khatu vala lagta rishtedaar

मेरा तो ये खाटू वाला लगता रिश्तेदार
वरना क्यों ये साथ निभाता करता हमसे प्यार
खाटू ही घर है मेरा श्याम जहाँ तेरा बसेरा

दुःख और सुख में प्यारे आपको मानों
दिल की ये बातें सारी आपको सुनाऊ
कोई भी फैसला लेने से पहले पूछूं बारम्बार
वरना क्यों ये साथ निभाता करता हमसे प्यार
खाटू ही घर है मेरा श्याम जहाँ तेरा बसेरा

आप जैसा कोई नहीं है घर में मेरे
हार के आया बाबा पास मैं तेरे
मेरे जीवन का तो प्यारे आप ही हो आधार
वरना क्यों ये साथ निभाता करता हमसे प्यार
खाटू ही घर है मेरा श्याम जहाँ तेरा बसेरा

जब भी मेरा मन करे मैं दर तेरे आऊं
क्यूंकि वो घर भी मेरा हक़ से बताऊँ
श्याम उमंग संग रहते घर में बन जाते परिवार
वरना क्यों ये साथ निभाता करता हमसे प्यार
खाटू ही घर है मेरा श्याम जहाँ तेरा बसेरा

Leave a Reply