mere naino ki pyas bujhade

मां मेरी मां …
मां मेरी मां …
ओ मेरे नैनों की प्यास बुझादे,अब तो मैया जय दरस करादे
तेरे दर आएंगे , झोली फैलाएंगे….
ओ मेरे नैनों की…..
दरस करादे….

तड़प रहा है मेरा मनवा , सुना मेरे घर का अंगना ,
अब तो आजाओ मां , कर दो अहसान मां,
मेरे नैनों की …….
दरस करादे…
मां मेरी मां….
मां मेरी मां…..

मेरी अर्जी न ठुकराना , मुझको मैया गले लगाना,
होके सिंघ पे सवार , करदो मां बेड़ापार,
ओ मेरे नैनों…
दरस करादे….

मेरी मुरादें पूरी करदो , अब तो मैया झोली भरदो ,
तेरे दर आएंगे , झोली फेलायेंगे,
ओ मेरे नैनों की ….
दसर करादे…
तेरे दर आएंगे …
ओ मेरे नैनों की ….
मां मेरी मां …….
मां मेरी मां ….

दुर्गा भजन

Leave a Reply