meri maa de dar te aa

मेरे माँ दे दर ते आ कर के अज्वेश देख
तू कमली एवे रोना मन गम विच दुखी हो न
मेरी माँ दे दर ते आ कर के अज्वेश देख

तू रोना पीट ना छड दे हर फिकर तू दिल चो कड दे
फड मैया जी दी चोली भर जाऊ तेरी झोली
तू मन ले मेरी सलाह कर के अज्वेश देख
मेरी माँ दे दर ते आ कर के अज्वेश देख

माँ किसे नु रोंन नी दिंदी दुखी गम विच हों नही दिंदी,
किथे मिठड़े मिलदे मेवे माँ भर भर मुठिया देवे
एहदे मन्नत मंगदे जा कर के अज्वेश देख

तेरी सुनेगी मैया सारी तू जो भी अर्ज गुजारी
तेनु मैया ने रंग लौना तेरा सुता भाग ज्गाउना,
तू कुंडा आ खड़का कर के अज्वेश देख

मैं उजड़े देखे वसदे तू दुःख मैया नु दसदे
तेरे दिल दिया मैया जाने तेरे कटे रोग पुराने
मेरी माँ नु सबनू विखा कर के अज्वेश देख

दुर्गा भजन

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply