meri radha hai ras ki khaan rasiyan shyaam piya

मेरी राधा है रस की खान रसियां श्याम पिया ,

संग पिया के गेहवल गइयाँ दोनों बैठे कदम की छइयां,
है जोड़ी अज़ब बनी है श्याम रसियां श्याम पिया,
मेरी राधा है रस की खान रसियां श्याम पिया

श्री हरिदास के प्रानन प्यारे सूरदास के नैनं काले,
तेरी बलिहारी जाऊ मैं श्याम रसियां श्याम पिया,
मेरी राधा है रस की खान रसियां श्याम पिया

बांकी अदा की बात निराली दोनों की छवि लागे प्यारे,
भव से अधम धरी है श्याम रसियां श्याम पिया,
मेरी राधा है रस की खान रसियां श्याम पिया

भारती तुम पे बल बल जावे,
तेरी मस्ती में खो जावे,
तेरे चरनन की मैं बलिहार ओ रसियां श्याम पिया,
मेरी राधा है रस की खान रसियां श्याम पिया

Leave a Reply