meri rooh daati khush ho jaandi tera darshan jad paawa

दर पिंडियां दे दर्शन करके मैं गद गद हो जाना,
मेरी रूह दाती खुश हो जांदी तेरा दर्शन जद पावा,

तेरा भोला भाला मुखड़ा मन नु भौंडा है,
बस तक दा जावा एहो माँ दिल चाउंदा ऐ,
माँ रूप रूहानी देख तेरे नाम च खो जावा,
मेरी रूह दाती खुश हो जांदी तेरा दर्शन जद पावा,

माँ कुल दुनिया दी मालिक सारे कहन्दे ने,
नाल ढोलक छैने चिमटे भजदे रेह्न्दे ने,
सब न मिल के आत जय कारे मैं तेरे लावा,
मेरी रूह दाती खुश हो जांदी तेरा दर्शन जद पावा,

राजू भी हारीपुरियाँ तेरा लाल खड़ा तेरे प्यार नु पावन ले मैं भी बेचैन बड़ा,
बिन मावा दे कर दा न कोई बचैया नु एह छावा,
मेरी रूह दाती खुश हो जांदी तेरा दर्शन जद पावा,

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply