mujhe khatu vale teri sewa me lga de ki kab tak jiyu mujhko das bna le

मुझे खाटू वाले तेरी सेवा में लगा ले,
की जब तक जियु मैं मुझको दास बना ले,

मुझे अपने रंग में रंगया है तुम ने चरणों के काबिल बनाया है तुम ने,
दिल में तेरे बाबा थोड़ी सी जगह दे मुझे अपना के मेरा जीवन सवार दे,
हारे के सहारे बाबा मुझे अपना ले,
की जब तक जियु मैं मुझको दास बना ले,

मुझपे जो बीत रही है कैसे बतलाऊ,
हाल क्या हुआ इस दिल का किसको दिखाऊ,
सुनले ओ बाबा मेरे अर्जी है तेरी तारो या ना तारो मुझको मर्जी है तेरी,
पल पल जो रूठो गये तो कौन फिर सम्बल,
की जब तक जियु मैं मुझको दास बना ले,

अगर मुझको मिल ता न तेरा सहरा भटकता ही रहता मैं कहा मारा मारा,
अगर तुम न मिलते तो मैं जी ना पाता किसे अपना कहता कहा दिल लगता,
पंकज को बाबा अब तो गले से लगा ले.
की जब तक जियु मैं मुझको दास बना ले,

Leave a Reply