murli vale shyam tumhara kya kehna

ये मुरली मुधर बजावे गलियां में शोर मचावे,
ग्वालन संग रास रचावे हर पल हम को तरसावे,
तेरी मीठी मीठी तान तुम्हारा क्या कहना,
मुरली वाले श्याम तुम्हारा क्या कहना,

सांवरियां तेरा मुखड़ा चंदा का कोई टुकड़ा,
है रूप तेरा निराला लागे ये कितना प्यारा,
तुझे देख दीवाने हो जावे,
दिल में सूरत वस् जावे तेरी प्यारी सी मुस्कान तुम्हारा कया कहना,
मुरली वाले श्याम तुम्हारा क्या कहना,

नैनो से नैन मिलावे इक पल में चैन चुरावे,
होठो से हस हस बोले तुम राज दिलो के खोलेम
गल में वैजयंती साजे मोरां के पंख लगावे,
तेरी टेडी चितवन चाल तुम्हारा क्या कहना,
मुरली वाले श्याम तुम्हारा क्या कहना,

कृष्ण भजन

Leave a Reply