nach nach ke dhamala paauniya aaj jogi de darbar te

नच नच के धमाला पोनियां आज जोगी दे दरबार ते,
मेरे जोगी दे दरबार ते पौणाहारी दे दरबार ते,
नच नच के धमाला पोनियां आज जोगी दे दरबार ते,

जोगी मेरा किना सोहना ओहदे वर्ग होर नहीं होना,
करदा है मोर सवारी जोगी नचदा बड़ा है ओह मन मोना,
सूंदर रूप सुहाना बाबा जी मंदा है संसार एह,
नच नच के धमाला पोनियां आज जोगी दे दरबार ते,

बोल जयकारे भगत प्यारे भगत प्यारे मन तो क्यों गबरावे,
तेरी बिगड़ी बनावे बाबा श्रद्धा नाल जे गावे,
बाबा जी दे दर ते भगता खुशिया दे भंडार ने,
नच नच के धमाला पोनियां आज जोगी दे दरबार ते,

लंगर चलदे भेटा गाउँदे बाबा जी दे प्यारे,
नच्दे नच्दे कदे न थक दे लावे जो जयकारे,
नवे साल ते राज भी करदा जोगी डा दीदार वे,
नच नच के धमाला पोनियां आज जोगी दे दरबार ते,

Leave a Reply