कान्हा को ढूँढ़ता हूँ दुनिया की हर गली मे

कन्हैया मेरी आँखों में वो तासीर हो जायेनजर जिस चीज पे दालु तेरी तस्वीर हो जाए।। गोकुल की हर गली…

Continue Readingकान्हा को ढूँढ़ता हूँ दुनिया की हर गली मे

मुझे चरणों से लगाले मेरे श्याम मुरली वाले

मुझे चरणों से लगाले मेरे श्याम मुरली वालेमेरी श्वास श्वास में तेरा है नाम मुरली वाले भक्तो की तुमने काहना…

Continue Readingमुझे चरणों से लगाले मेरे श्याम मुरली वाले