pehle dhyaa shri ganesh ka

पहले ध्यान श्री गणेश का
मोदक भोग लगाओ भक्ति मन से करलो भगतो,
गणपति के गुण गाओ,
पहले ध्यान श्री गणेश का,

द्वार द्वार दर आसान सब पर शुभ प्रभु की है प्रतिभा,
देवो में जो देव पूज्ये है गणपति की है गरिमा,
मंगल अति सुमंगल है जो उनको नैन वसाओं,
पहले ध्यान श्री गणेश का

द्वार तेरे नित दिन भजन प्राथना शंख नाथ भी गूंजे,
मंगल जल दर्शन से गणपति तन मन सबका भीजे,
सब भक्तो का मंगल करदो मन सब का हरषाओ,
पहले ध्यान श्री गणेश का

सब त्यौहार उन्ही से शुभ है गणपति का त्योहारा,
मूषक वाहन श्री गणेश का ऐसा देव हमारा,
कीर्तन भजन नारायण करते उत्सव आज मनाओ,
पहले ध्यान श्री गणेश का

Leave a Reply