sai jaadu bhara hai teir udhi me

साई जादू भरा है तेरी उधि में,
हर करिश्मा किया है तेरी उधि ने,

हर कर्म है किया सब को जीवन दिया रोग सब का हरा तूने पावन किया,
दुःख सब हरलिया है तेरी उहदी ने,
हर करिश्मा किया है तेरी उहदी ने,

ये जो उधि भभूति निशानी अमर,
साई के हर कर्म की कहानी अमर,
सब का दामन भरा है तेरी उधि में ,
हर करिश्मा किया है तेरी उधि ने,

जिसने मुर्दो को भी जिंदगानी है दी,
जो थे मायूस उनको रमानी है दी
खुशियों से है भर दिया है तेरा उधि ने ,
हर करिश्मा किया है तेरी उधि ने,

Leave a Reply