sai tune lee na mori khabariya

दीन दुखी का तू है सहाई सुन ले बाबा मेरी दुहाई,
सब की नैया पार लगाई मुझपे भी कर दो नजारियाँ,
साई तूने ली न मोरी खबरियां,
दीन दुखी का तू है सहाई सुन ले बाबा मेरी दुहाई,

साई के खेल सब निराले है,
साई भक्तो के ही रखवाले है मेरे तो साई भोले भाले है,
यही तो याम बंसी वाले है,
साई तूने ली न मोरी खबरियां,

काम बिगड़े बनाते है बाबा सोइ किस्मत जगाते है बाबा,
रवि चन्दर भी गाते है बाबा हाल अपना सुनाते है बाबा,
साई तूने ली न मोरी खबरियां,

Leave a Reply