saj geya mera sanwara radhe ki haweli me saj geya mera sawara radhe ki haweli me

सज गया मेरा संवारा राधे की हवेली में,
राधे की हवेली में श्याम राधे की हवेली में,

राधे श्याम की सूंदर जोड़ी अध्भुत किया शृंगार है,
देख छवि दिल रोके रुके ना राधे की हवेली में,
सज गया मेरा संवारा राधे की हवेली में,

हर ग्यारस को सजती महफ़िल सांवरे के नाम की,
बरसे मस्ती सांवरे की राधे की हवेली में,
सज गया मेरा संवारा राधे की हवेली में,

प्रेमिया आते दूर दूर से भाव अपने सुनाने को,
राधा संग मेरे श्याम सुनते राधे की हवेली में,
सज गया मेरा संवारा राधे की हवेली में,

गाओ भजन बड़े चाव से सांवली सरकार के,
नाचे गाये श्याम रिजाये राधे की हवेली में,
सज गया मेरा संवारा राधे की हवेली में,

रोशन होती सारी हवेली खाटू के निज धाम में,
जम के बरसे रंग श्याम का राधे की हवेली में
सज गया मेरा संवारा राधे की हवेली में,

Leave a Reply