sari duniya ka tu hai sahara sanware aaj maine bhi tujhko pukaara sanware

सारी दुनिया का तू है सहारा सावरे,
आज मैंने भी तुझको पुकारा सावरे,

चरनो से अपने दूर मत करना,
मैं रो पडूंगा मजबूर मत करना,
नाम बदनाम होगा तुम्हारा सावरे,
आज……..

मैं थक गया हु मेरी सांसे है कहती,
आखो से दो धारा है बहती,
तुही मेरी अखियो का तारा सावरे,
आज…….

अपना बनाके कभी ना ठुकराना,
ऐसा ना हो मुझपे हसे ये ज़माना,
ऐसान होगा तुम्हारा सावरे ,
आज……

Leave a Reply