sarkaar ka jalwa hai bhakto ko pukaara hai

सरकार का जलवा है भक्तो को पुकारा है,
मेरे श्याम सलोने सांवरिया खाटू वाले का डेरा है,
सरकार का जलवा है भक्तो को पुकारा है,

तुम इतने दयालु हो बाबा मेरी बिगड़ी बात बनाते हो,
हर गम कष्टों से दूर रहो मुझे दया की छा दिखाते हो,
मैं आज राहु न चुप बाबा एहसान तो तेरा है,
मेरे श्याम सलोने सांवरिया खाटू वाले का डेरा है,
सरकार का जलवा है भक्तो को पुकारा है,

पूरी मन की मुरादे करता है,
हर हाल में तू खुश रखता है,
जो भटक गये दर से बाबा तू फिर भी दया दिखलाता है,
तेरी महिमा इतनी निराली है,
ये कर्म तो तेरा है,
मेरे श्याम सलोने सांवरिया खाटू वाले का डेरा है,
सरकार का जलवा है भक्तो को पुकारा है,

मैं आज वैरागी बना दर का सुर ताल का मुझको ज्ञान नहीं,
झोली भर के दर से जाऊ गा बाबा अब तो मानु नहीं,
तेरी किरपा सदा बरस ती रहे बेडा पार ये तेरा है ,
मेरे श्याम सलोने सांवरिया खाटू वाले का डेरा है,
सरकार का जलवा है भक्तो को पुकारा है,

Leave a Reply